डिजिटल डेस्क, दुबई। 24 अक्टूबर को भारत-पाक के बीच होने वाले हाई-वोल्टेज मैच पर सभी की नजरें हैं। पिछले कुछ सालों से राजनैतिक उठा-पटक के चलते ये दोनों  चिरप्रतिद्वंद्वी सिर्फ बड़े टूर्नामेंट्स में ही एक-दूसरे का आमना-सामना करते हैं। अब इस महा मुकाबले में मात्र तीन दिन बचे हैं। भारत-पाकिस्तान का मुकाबला सिर्फ खेल के लिए ही नहीं याद रखा जाता है, इन दो देशों के खिलाड़ियों के बीच कई बार तकरार देखने को भी मिली है। तो आइए एक नजर डालते हैं भारत बनाम पाकिस्तान के विवादास्पद क्षणों पर

1. 1992 विश्व कप: किरण मोरे की नकल करते हुए मेढ़क की तरह उछले जावेद मियादाद 

1992 विश्व कप में, जावेद मियांदाद भारतीय विकेटकीपर किरण मोरे की लगातार अपील से नाराज हो गए, जिसकी शिकायत उन्होंने अंपायर से भी की थी। लेकिन लेग-साइड कैच के लिए एक और अति उत्साही अपील से निराश होकर मियांदाद अपने आप को रोक नहीं पाए और मोरे की नकल करते हुए मेढ़क की तरह उछलने लगे।  

2. 1996 विश्व कप: वेंकटेश प्रसाद ने आमिर सोहेल को बताया कि ‘बॉस कौन है’

1996 के विश्व कप में, पाकिस्तान के आमिर सोहेल काफी खतरनाक अंदाज में बल्लेबाजी कर रहे थे। उन्होंने 287 रनों का पीछा करते हुए अर्धशतक भी बनाया था। इस पारी के दौरान उन्होंने वेंकटेश प्रसाद की बॉल पर कवर्स पर एक चौका लगाया जिसके बाद अति-उत्साहित होकर उन्होंने प्रसाद को इशारा करते हुए कहा कि ‘आपकी जगह वहीं हैं’ और अभी उस दिशा में वो उन्हें और चौके मारेंगे। लेकिन प्रसाद ने उन्हें अगली ही गेंद पर क्लीन बोल्ड कर दिया और उसके बाद का जश्न और विदाई यादगार रही।

3. 2007: गौतम गंभीर ने शाहिद अफरीदी को मारी टक्कर 

Gautam Gambhir doesn’t hold back against Shahid Afridi

2007 में एक वनडे के दौरान, गौतम गंभीर ने शाहिद अफरीदी की बॉल पर एक चौका मारा, जिसके बाद शाहिद अफरीदी ने कुछ आपत्तिजनक शब्द बोले। गंभीर ने तुरंत कोई प्रतिक्रिया नहीं दी लेकिन उसी ओवर में सिंगल लेते हुए अफरीदी से टकरा गए। अपशब्दों का आदान-प्रदान हुआ और अंपायरों को अंदर आना पड़ा।

4. 2010: गौतम गंभीर-कामरान अकमल के बीच जुबानी जंग

Gautam Gambhir-Kamran Akmal verbal spat

2010 एशिया कप में, विकेटकीपर कामरान अकमल ने गौतम गंभीर के खिलाफ एक कैच के लिए एक अति उत्साही अपील की। अंपायर ने उन्हें नॉट आउट दिया। बाद में ड्रिंक्स ब्रेक के दौरान, गंभीर और कामरान के बीच बहुत तगड़ी कहासुनी हो गई। जिसके बाद अंपायर बिली बोडेन को बीच-बचाव के लिया आना पड़ा। एमएस धोनी ने गंभीर को खींचकर दूर किया। 

5. 2010 एशिया कप: शोएब की गाली पड़ी पाकिस्तान पर भारी, भज्जी ने छक्का लगाकर जिताया मैच 

Harbhajan Singh wins it for India | Photo | Asia Cup 2010 | ESPNcricinfo.com

यह भी उसी मैच का किस्सा है जिस मैच में अकमल और गंभीर भिड़े थे। अंत में जब मैच रोमांचक हो गया जहां हरभजन ने शोएब अख्तर को छक्का जड़कर मैच को फिर से भारत की तरफ मोड़ा, लेकिन इस छक्के से शोएब बौखला गए और गुस्से में भज्जी को आपत्तिजनक शब्द कहे। जिसके बाद दोनों खिलाड़ी बीच मैदान पर ही भिड़ गए, और कई बार भिड़े। अंपायरों के बीच-बचाव करने के बाद, भारत को मैच जीतने के लिए 2 गेंदों पर 3 रन की आवश्यकता थी। भज्जी ने मोहम्मद आमिर को छक्का लगाकर भारत को मैच जिताया, जिसके बाद भज्जी सिर्फ शोएब के सामने जीत का जश्न मनाते दिखे। 

 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here